. . लिखी है क़ैस ने किसी मासूम पर किताब पढ़ पढ़ के झूमने लगीं हर बाब तितलियां . . .


.
.
लिखी है क़ैस ने किसी मासूम पर किताब
पढ़ पढ़ के झूमने लगीं हर बाब तितलियां
.
.
.


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *