. . ये हुसन-ए-ज़न तो बहुत बाद आँख को भाया हुज़ूर याद करें पहला प्यार है तितली . . .


.
.
ये हुसन-ए-ज़न तो बहुत बाद आँख को भाया
हुज़ूर याद करें पहला प्यार है तितली
.
.
.


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *