. . किया ख़बर वुह नमाज़ ही हो क़बूल शेख़ जिस को क़ज़ा समझता है . . .


.
.
किया ख़बर वुह नमाज़ ही हो क़बूल
शेख़ जिस को क़ज़ा समझता है
.
.
.


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *